कैंसर से जंग जीत सफल स्कैच आर्टिस्ट बने सोनू शंकर सिंह

कहते हैं कि मन कि हारे हार है और मन के जीते जीत!! जब कोई इंसान मन में अपने इरादों को अंजाम तक पहुंचाने की ठान लेता है तो मंजिल खुद ब खुद उसके पास चलकर आती है। ऐसी ही एक सक्सेस स्टोरी को मीडिया हलचल आज आपके सामने लेकर आया है।

फिल्मी से लगने वाली ये कहानी है यूपी की सुहागनगरी फिरोजाबाद के रहने वाले स्कैच आर्टिस्ट सोनू शंकर सिंह की। सोनू शंकर जब महज एक साल के बालक थे तो पिता इस दुनियां को छोडकर चले गए थे। अकेली मां ने चूढी कारखानों के लिए काम करते करते सोनू का लालन पालन किया और पढाया लिखाया लेकिन संघर्ष की इस दास्तां में परेशानियां और भी बढीं जब सोनू शंकर सिंह को 2013 में कैंसर ने घेर लिया। कैंसर जैसी बीमारी से जीतकर आज सोनू शंकर सिंह एक सफल चित्रकार बन चुके हैं। उनके द्वारा बनाए गए स्कैचों की बढे बढे बालीबुड कलाकर, खिलाडी और राजनेता प्रशंसा करते हैं।

फिरोजाबाद के मुहल्ला गंजबाजार में रहने वाले सोनू शंकर सिंह बताते हैं कि 1989 में जब वह महज एक साल के थे तो उनके पिता की हत्या कर दी गई। अकेली मां आशा देवी ने मेहनत करके उनका लालन पालन किया। बचपन में स्कूल से ही वह एक आर्टिस्ट बनने का सपना देखते थे। कालेज में आते आते उनका यह सपना परवान चढने लगा। मशहूर अदाकार एश्वर्याराय बच्चन की दीवानगी इस कदर उन पर छाई कि ऐश्वर्याराय का स्कैच बनाने के लिए मां द्वारा दिए जाने वाले जेबखर्च के पैसे जुटाकर उन्होंने महंगी मिलने वाले स्कैच पेंसिल खरीदे और रात रात भर जागकर ऐश्वर्या का स्कैच बनाया।

गे्रजुएशन पूरा करने के बाद आर्थिक समस्याओं के कारण सोनू को नौकरी करनी पडी और उनकी चित्रकार बनने का सपना अधूरा रह गया लेकिन कहानी मंे अचानक टिृवस्ट तब आया जब 2013 में उन्हें पेट में दर्द होना शुरू हुआ और जब चिकित्सकीय परीक्षण कराया तो पता चला कि वह कैंसर से पीडित है। कैंसर जैसे रोग के बारे में पता चला तो मानो मां पर तो दुखों का पहाड़ ही टूट पड़ा हो। सोनू ने हिम्मत नहीं हारी और मां को साहस बंधाते हुए नौकरी छोड़ खुद ही चिकित्सा के लिए दिल्ली के चक्कर लगाने शुरू किए। एक निजी अस्पताल में उनकी कीमोथैरेपी की गई और दो साल तक चले इलाज के बाद वह फिर से पूरी तरह स्वस्थ हो गए।

जीवन के नए सबक से सोनू शंकर को सोचने का नजरिया अब बदल चुका था। उन्होंने फिर से अपने पुराने शौक चित्रकारी को अपना पैशन बना दिया। चित्रकारी से जब खर्च न चल सका तो फिर से नौकरी कर ली लेकिन रात रात भर जागकर स्कैच बनाना उनकी डेली लाइफ का हिस्सा बन गया। उन्होंने पोट्रेट आर्ट में अपनी अलग पहचान बनाई और आज एक सफल चित्रकार के रूप में जाने जाते हैं।

सोनू शंकर सिंह मीडिया हलचल से बातचीत करते हुए कहते हैं कि जीवन में हारना नहीं जीतना सीखा है। जब कोई बडी हस्ती उनके काम की सराहना करती है तो उनकी मां को उन पर नाज होता है। मां की यही खुशी उन्हें आगे बढने की प्रेरणा देती है। उन्होंने बताया कि सिंगर और डांसर सपना चैधरी के वह बढ़े फैन हैं और उन्होंने अब तक सपना चैधरी के कई पोट्रेट बनाए हैं। खुद सपना ने उन्हें अपने आवास पर बुलाकर उनके काम को सराहा और उन्हें एक पहिचान दी। वह कई राजनेताओं व खिलाडियों के स्कैच बनाकर वाहवाही लूट चुके हैं।

सोनू शंकर सिंह की तमन्ना एक बार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का पोट्रेट बनाकर उन्हें भेंट करने की है और इसके लिए उन्होंने पीएमओ को पत्र लिखकर प्रधानमंत्री का अपाइंटमेंट भी मांगा है। मीडिया हलचल की ढे़रों शुभकामनाएं सोनू शंकर सिंह के साथ हैं।

207 thoughts on “कैंसर से जंग जीत सफल स्कैच आर्टिस्ट बने सोनू शंकर सिंह

  1. Hi, just required you to know I he added your site to my Google bookmarks due to your layout. But seriously, I believe your internet site has 1 in the freshest theme I??ve came across. It extremely helps make reading your blog significantly easier.

  2. sildenafil 130mg pills – cheap viagra canada pharmacy

  3. Thanks for your own marvelous putting up! I truly relished looking at it, you could be a fantastic author.I will make sure to bookmark your blog site and may ultimately come back later in life. I want to stimulate which you continue your good occupation, Use a pleasant weekend!

  4. Howdy! This is form of off subject matter but I would like some suggestions from an established blog. Can it be quite challenging to setup your very own blog site? I’m not pretty techincal but I can figure issues out quite rapid. I’m contemplating putting together my very own but I’m undecided wherever to begin. Do you might have any points or recommendations? Thanks

  5. Pingback: meritking
  6. Pingback: meritroyalbet
  7. Pingback: meritroyalbet
  8. Pingback: eurocasino
  9. Pingback: meritroyalbet
  10. Pingback: meritking
  11. Pingback: slot siteleri
  12. What’s up mates, its fantastic article regarding educationand fully defined, keep
    it up all the time.

  13. Pingback: child porn
  14. Pingback: elexusbet
  15. Hi there would you mind stating which blog platform you’re working with?
    I’m going to start my own blog soon but I’m having a difficult time selecting between BlogEngine/Wordpress/B2evolution and Drupal.
    The reason I ask is because your layout seems different then most blogs
    and I’m looking for something unique. P.S Apologies
    for getting off-topic but I had to ask!

  16. Right now it appears like BlogEngine is the top blogging
    platform out there right now. (from what I’ve read) Is that
    what you are using on your blog?

  17. Kariyer Astrolojisi, Spor Astrolojisi, Yükselen Burç, Ebru Tansoy, astrokronos, ilişki astrolojisi

  18. Thanks on your marvelous posting! I definitely enjoyed reading it, you can be a great
    author.I will be sure to bookmark your blog and will often come back from now on. I want to encourage you to continue your great
    posts, have a nice holiday weekend!

  19. Hello would you mind letting me know which webhost you’re working with?
    I’ve loaded your blog in 3 different browsers and I must say this blog loads a lot quicker then most.
    Can you suggest a good web hosting provider at a reasonable price?
    Thanks, I appreciate it!

  20. May I simply say what a comfort to discover
    somebody that genuinely knows what they are talking about on the web.
    You certainly know how to bring an issue to light and make it important.
    More and more people ought to look at this and understand this side of your story.

    I can’t believe you are not more popular given that you surely possess the gift.

  21. Pingback: madridbet
  22. I’ve been browsing online more than 3 hours as of late, yet I never found any fascinating article like yours. It is lovely value enough for me. In my view, if all site owners and bloggers made excellent content material as you probably did, the net will likely be a lot more useful than ever before.

  23. Fantastic web site. A lot of helpful info here.

    I’m sending it to a few pals ans additionally sharing
    in delicious. And of course, thanks to your sweat!

  24. I am curious to find out what blog platform you have been working with?
    I’m experiencing some small security issues with my latest site and I’d like
    to find something more risk-free. Do you have any solutions?

  25. When I initially commented I seem to have clicked the -Notify
    me when new comments are added- checkbox and now whenever a comment
    is added I receive four emails with the same comment.
    Is there an easy method you are able to remove me from that service?
    Thank you!

  26. Excellent post. Keep writing such kind of info on your page.
    Im really impressed by it.
    Hi there, You’ve done a great job. I will certainly digg it and for my part suggest to my friends.

    I am sure they will be benefited from this website.

  27. Hello, i read your blog from time to time and i own a similar one and i was just wondering if you get a lot of spam remarks?
    If so how do you reduce it, any plugin or anything you
    can advise? I get so much lately it’s driving
    me mad so any help is very much appreciated.

  28. I happen to be writing to make you be aware of of the nice discovery my child had visiting your web site. She figured out many things, including how it is like to possess a wonderful coaching style to get other individuals effortlessly gain knowledge of some grueling topics. You really did more than our desires. Many thanks for delivering those good, trustworthy, revealing and cool tips about that topic to Gloria.

  29. We’re a group of volunteers and opening a new scheme in our community.
    Your web site provided us with valuable info to
    work on. You’ve performed an impressive job and our whole community will likely be grateful
    to you.

  30. Hello.This post was really interesting, particularly since I was searching for thoughts on this topic last Monday.

  31. I am thinking of buying a joomla template from template monster and importing it into joomla.. . How hard are they to import? Is it plug and play a role easy? Or will I dependence to configure plugins etc.. . Thanks..

  32. How accomplish I start website for the sole aspiration of redirecting people to substitute website?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *