अलीगढ़ में पकड़ी गई एक और अनामिका !

अलीगढ़. कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय, बिजौली ब्लॉक में अनामिका शुक्ला के दस्तावेजों से नौकरी करने वाली बबली को गिरफ्तार कर लिया गया है।

बबली की तलाश में तीन दिन से अलीगढ़ पुलिस कानपुर व औरैया में थी। बबली  कानपुर देहात के रसूलाबाद के चंदनपुरवा की है। छह जून से घर पर ताला लगा था। पुलिस के अनुसार बबली को अलीगढ़ से ही गिरफ्तार किया गया है। गिरफ़तारी के लिए एसएसपी मुनिराज ने दो टीम बनाई थीं। दोनों टीमें निरंतर दबिशें दे रहीं थीं।बबली बार बार अपनी लोकेशन बदल रही थी। इससे पुलिस को दिक्‍कत हो रही थी, लेकिन पुलिस के हाथ कोई करीब लग गया।

करीबी की सूचना पर पुलिस ने बबली के नजदीकियों की घेराबंदी औरेया में कर दी थी। इन सब की सूचना पर पुलिस को कामयाबी मिल गई। पुलिस के अनुसार अनामिका के दस्‍तावेजों पर नौकरी करने वाली बबली को अलीगढ़ से ही गिरफ़तार कर लिया गया है।

उत्तर प्रदेश के कई जिलों में कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय में नौकरी करने वाली अनामिका भनक लगते ही कानपुर से फरार हो गई थी। अलीगढ़ में बिजौली के कस्तूरबा आवासीय विद्यालय में फर्जीवाड़े से नौकरी पाने वाली अनामिका शुक्ला कानपुर में नहीं मिली। अलीगढ़ पुलिस वहां पहुंची तो घर पर ताला लगा था।  बैंक खाते में दिए गए पते की तलाश के दौरान वह तो नहीं मिली लेकिन पड़ौसियों ने उसे फोटो से पहचान लिया। उसका मानदेय कानपुर के सेंट्रल बैंक के खाते में जा रहा था, जिसमें उसका पता चंदनपुरवा, रसूलपुर, कानपुर है। इस पते पर गुरुवार को अलीगढ़ पुलिस पहुंची तो मकान बंद मिला। पड़ौसियों  को फोटो दिखाया तो वे पहचान गए। बताया कि यह बबली है।