कृषि कानूनों को नही समझते ज्यादा तर किसान-राहुल गांधी

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता और वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने आज अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड किया। इस दौरान रहुल गांधी ने एक कार्यक्रम को संबधित करते हुए कृषी कानूनों को लेकर सरकार पर जमकर हल्ला बोला राहुल गांधी ने कहा अधिकतर किसान कानूनों को सही रूप से नही समझते हैं। अगर समढते तो आज आंदोलन पूरे देश में हो रहा होता।

राहुल ने कहा कि उन्होने देखा कि किसानो के ऊपर हमला करने कि कोशिश कुछ साल पहले से की जा रही थी।जिसकी शुरुआत पिछले साल से भट्टा पारसौल में हुई थी, जब उनकी जमीन को छीना जा रहा था। राहुल गांधी ने आगे कहा कि मुझे अहसास हो रहा कि यह एक समस्या है जिसको लेकर पार्टी के अंदर बात शुरू हुई। इसका परिणाम यह हुआ कि हमने पुराने ब्रिटिश बिल की जगह एक नया भूमि अधिग्रहण बिल लेकर आए, जिसने हमारे किसानों को मुआवजे और सुरक्षा की गारंटी दी। भाजपा की सरकार आने के बाद भाजपा सरकार इस बिल को खत्म करने की कोशिश की जिसके खिलाफ हम संसद में खडे रहे और हमने भाजपा सरकार को ऐसा करने रोका।जब सरकार संसद में सफल नही हुई तो भाजपा शासित प्रदेशों में फिर ऐसी कोशिश की गई।

इससे पहले राहुल गांधी तीन दिन के दौरे पर तमिलनाडु के पश्चिमी बेल्ट पर थे जहाँ राहुल गांधी ने किसानो,बुनकरों और आम जनता के साथ बात की थी। राहुल ने आगामी अप्रैल-मई में होने वाले तमिलनाडु विधानसभा चुनावों के लिए द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK) के साथ कांग्रेस के गठबंधन के बारे में बात की और कहा कि उन्हें इस पर पूरा विश्वास है।