मुलायम परिवार में फूट अपर्णा यादव बीजेपी में शामिल

लखनऊ : पिछले दो दिन से जो दावा किया जा रहा था कि वो दावा आखिरकार सच साबित हो ही गया। नेताजी मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने भातीय जनता पार्टी का दामन थाम लिया। हालांकि अपर्णा यादव को लेकर सपा की तरफ से दावा किया जा रहा था कि वो सपा के ही साथ रहने वाली हैं लेकिन अपर्णा यादव ने आज भातीय जनता पार्टी का दामन थाम के सारे दावों पर पानी फेर दिया। अपर्णा यादव की एंट्री से न केवल बीजेपी ने सपा में सेंधमारी की है…बल्कि मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू ने सपा मुखिया अखिलेश यादव को बड़ा झटका दिया है।

यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले बीजेपी में शामिल होने के बाद अपर्णा यादव ने कहा कि मैं भातीय जनता पार्टी की बहुत आभारी हूं। मेरे लिए देश हमेशा सबसे पहले आता है। मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काम की प्रशंसा करती हूँ। अपर्णा यादव ने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में भातीय जनता पार्टी की सदस्यता ली।

अपर्णा यादव मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं।अपर्णा यादव लखनऊ कैंट विधानसभा से सपा के टिकट पर 2017 में चुनाव हार चुकी हैं।बीजेपी का दामन थामने के बाद अपर्णा यादव ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री मोदी जी का और राष्ट्रीय अध्यक्ष जी का धन्यवाद करती हूं। उत्तर प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और अनिल बलूनी जी का धन्यवाद करती हूं। मैं प्रधानमंत्री जी से पहले से ही प्रभावित रहती थी, मेरे लिए सर्वप्रथम राष्ट्र है।अब मैं देश की अराधना के लिए निकली हूं,आपका सहयोग अनिवार्य है।

उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 की तिथियां जारी होते ही नेताओं का पाला बदलना शुरू हो गया है। योगी आदित्‍यनाथ सरकार में मंत्री रहे स्‍वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी जैसे वरिष्‍ठ नेता समाजवादी पार्टी का दामन थाम चुके हैं। इसके अलावा बीजेपी के कई विधायक भी सपा में शामिल हो चुके हैं। अन्‍य छोटे दलों के प्रभावी नेताओं का भी पाला बदलने का सिलसिला शुरू है। देखना ये है कि अब बीजेपी में जाने के बाद अपर्णा यादव सपा के बारे में और अपने परिवार के बारे में क्या विचार रखती हैं और कैसे परिवार के साथ ही सियासी रिश्ते संभालती है।