पूर्व सांसद बोले बरगला रही है भाजपा

मैनपुरी।
पूर्व सांसद सपा तेज प्रताप यादव ने मंगलवार को आवास विकास काॅलोनी स्थित पार्टी कार्यालय पर षिकायतों की सुनवाई के बाद भाजपा पर निषाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा लोगों को बरगला रही है। योजनाओं के नाम तो गिनाए जा रहे हैं लेकिन लोगों को उन योजनाओं का लाभ नहीं मिल रहा है।
उन्होंने कहा कि सूबे में बेरोजगारी चरम पर है। अब तक सरकार द्वारा किसी भी बेरोजगार को नौकरी नहीं दी गई है। उल्टा सरकार तंज कसती है कि नौकरियों की कमी नहीं है, उनके लायक षिक्षित भी तो मिलें। कानून व्यवस्था पूरी तरह से मखौल बन चुकी है। महिलाओं के साथ खुलेआम लूट और छिनैती की घटनाएं हो रही हैं।
पूर्व मंत्री आलोक षाक्य ने कहा कि भाजपा जातीय राजनीति कर रही है। बिजली के दामों में बेतहासा बढोतरी कर किसानों और सामान्य उपभोक्ताओं को लूटने का नया कुचक्र रचा गया है। बिजली चेकिंग के नाम पर मनमानी की जा रही है। विद्युत अधिकारी खुलेआम वसूली कर रहे हैं। यदि ये सब न रूका तो सरकार के खिलाफ समाजवादी कार्यकर्ता सडकों पर उतरकर आंदोलन करेंगे।

7 thoughts on “पूर्व सांसद बोले बरगला रही है भाजपा

  1. 566969 188601I was examining some of your content material on this internet website and I believe this website is rattling instructive! Maintain putting up. 527672

  2. 265123 208529I surely didnt know that. Learnt 1 thing new these days! Thanks for that. 171837

  3. 861608 710260Id need to talk to you here. Which is not some thing Which i do! I like reading an write-up that can make people believe. Also, thank you for permitting me to comment! 242740

  4. 790190 662863Oh my goodness! a wonderful post dude. Thanks Nonetheless My business is experiencing issue with ur rss . Do not know why Struggling to join it. Is there anybody acquiring identical rss concern? Anyone who knows kindly respond. Thnkx 341768

  5. 139632 727788Amaze! Thank you! I constantly wished to produce in my internet website a thing like that. Can I take element of the publish to my blog? 255920

  6. 35942 145154Fantastic beat ! I wish to apprentice although you amend your web site, how can i subscribe for a blog site? The account aided me a appropriate deal. I had been a bit bit acquainted of this your broadcast provided bright clear thought 875991

  7. 320487 569258To know wisdom and instruction, to perceive the words of understanding 128547

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *